Assistant Professor कैसे बने? असिस्टेंट प्रोफेसर बनने के लिए योग्यता

क्या आपका भी बचपन से सपना है कि, आप एक असिसटेंट प्रोफेसर बने, लेकिन नहीं जानते है कि Assistant Professor कैसे बने? या फिर डिग्री कॉलेज में सहायक प्रोफेसर के लिए न्यूनतम योग्यता क्या है? आदि के बारे में आपको जानकारी नहीं हैं तो आपको घबराने की जरुरत बिलकुल नहीं है क्योंकि हम इस लेख में, विस्तार से बतायेगे कि Assistant Professor kaise bane?

असिसटेंट प्रोफेसर बनना ना केवल आपके उज्जवल व सफल भविष्य की परिचायक है बल्कि असिसटेंट प्रोफेसर बनकर आपको समाज में वो मान – सम्मान भी मिलता है जिसके आप हकदार होते है। हमारे अनेको विद्यार्थी व पाठक आमतौर पर प्रोफेसर की सैलरी क्या होती है? या फिर असिस्टेंट प्रोफेसर के लिए उम्र सीमा क्या है? आदि को लेकर अमसंजस की स्थिति में नजर आते है लेकिन आपकी इस दुविधा को हम इस लेख में बिलकुल समाप्त कर देंगे।

आप जीवन में एक सफल Assistant Professor बन सकें और अपने उज्जवल भविष्य का निर्माण कर सकें इसके लिए हम आपको अपने इस लेख में विस्तार से Assistant Professor Kaise Bane? असिस्टेंट प्रोफेसर के लिए उम्र सीमा क्या है? एसोसिएट प्रोफेसर के लिए योग्यता? प्रोफेसर बनने के लिए नेट की जरूरत है या नहीं? प्रोफेसर की सैलरी क्या होती है? डिग्री कॉलेज में सहायक प्रोफेसर के लिए न्यूनतम योग्यता क्या है? आदि के बारे में बतायेगे।

Contents show

Assistant Professor कौन होते है?

आज के समय में भी ज्यादातर लोगो को स्कूल टीचर व Assistant Professor के बीच उलझन होती है लेकिन हम आपको यहां पर साफ – साफ स्पष्ट कर देना चाहते है कि स्कूल टीचर केवल स्कूल तक सीमित होते है अर्थात् वे केवल कक्षा 12वीं तक ही आपके टीचर होते है और आपकी शिक्षा की नींव को तैयार करते है ताकि आप प्राथमिक शिक्षा प्राप्त कर सकें और उच्च शिक्षा की ओर कदम बढ़ा सकें।

इस प्रकार हम कह सकते है कि स्कूल टीचर केवल स्कूल तक के सफर में ही आपका मार्ग – दर्शन करते है जबकि स्कूल टीचर के विपरित जब हम Assistant Professor की बात करते है इनकी भूमिका हमारे जीवन में स्कूली शिक्षा के बाद शुरु होती है अर्थात् तब शुरु होती है जब हम कॉलेज व विश्वविघालय में प्रवेश करते है और यहां से लेकर उच्च शिक्षा की अन्तिम सीढ़ी तक Assistant Professor हमारा साथ देते है और हर कदम पर हमारे सतत विकास के लिए प्रयत्नशील रहते है।

यदि हम आपको सरल भाषा मे कहें कि Assistant Professor कौन होते है तो हम आपको बता दें कि स्कूली शिक्षा के बाद कॉलेज या फिर विश्वविघालयी शिक्षा प्रदान करने वाले शिक्षको को ही Assistant Professor कहा जाता है और असल मायनो मे वे ही हमारे आगामी जीवन के लिए तैयार करते है अर्थात् हम उन्हें एक पौधे के रुप में मिलते है और वे हमें एक वृक्ष के रुप में दुनिया को सौंपते है।

Assistant Professor कैसे बने?

Assistant Professor कैसे बनें?

यदि आपका भी यही सपना और जीवन का मौलिक लक्ष्य है कि आप जीवन में Assistant Professor बनें तो हमारा ये लेख सिर्फ और सिर्फ आपके लिए है क्योंकि हम अपने इस लेख में आपको शुरुआती स्तर से बतायेगे कि आप Assistant Professor Kaise Bane? ।। असिसटेंट प्रोफेसर कैसे बनें? जो कि इस प्रकार से हैं-

  1. कड़े परिश्रम से अपनी स्कूली शिक्षा पूरी करें

यदि आप वास्तव में Assistant Professor बनना चाहते है तो उसके लिए सबसे पहले आपको कड़े परिश्रम व स्मार्टनेस के साथ अपनी स्कूली शिक्षा को अच्छे अंको से पूरा करना होगा और साथ ही साथ आपके केवल अंको पर ध्यान नहीं देना होगा बल्कि गुणवत्तापूर्ण शिक्षा प्राप्त करनी होगी क्योंकि यदि आप अपनी स्कूली शिक्षा को मजबूती व गुणवत्तापूर्ण ढंग के साथ सम्पन्न करते है तो आपको Assistant Professor बनने में काफी सहायता मिलेगी।

  1. 10वीं के बाद अपनी इच्छा के विषय का ही चयन करें ना कि दूसरो की नकल करें

यहां पर आपको समझना होगा कि Assistant Professor आप बनना चाहते है ना कि आपका कोई मित्र या सहपाठी इसलिए ये बिलकुल भी जरुरी नहीं है कि जो विषय आपके मित्र व सहपाठी चुन रहे हैं आप भी उसे ही चुने।

कक्षा 10वीं के बाद आपको उस विषय का चयन करना होगा जिससे ना केवल आप 12वीं कक्षा को पास करें बल्कि साथ ही साथ B.A, B.Com and B.Sc में भी पढ़ाई कर सकें क्योंकि एक बाद जब आप कक्षा 12वीं के लिए विषय का चयन कर लेते है तो आप उसे बदल नहीं पायेगे और इस छोटी से लगने वाली गलती की आपको एक भारी कीमत चुकानी होगी।

Assistant Professor बनने के लिए आपको कक्षा 10वीं के बाद उस विषय का चयन करना होगा जिसमें आपकी स्वाभाविक / प्राकृतिक इच्छा हो ताकि आप स्वाभाविक व मौलिक ढंग से पढ़ाई करके सफलता अर्जित करें ना कि पढ़ाई को बोझ समझकर।

  1. कक्षा 12वीं में बेहतर प्रदर्शन करना होगा और कॉलेज में दाखिला लेना होगा

जैसा कि हमने कहा कि Assistant Professor बनने तक का सफर केवल कॉलेज या फिर M.A के बाद शुरु नहीं होता है बल्कि इसके लिए बहुत पहले से योजना बनानी पड़ती है और उस योजना का ईमानदारी से पालन करना होता है।

अब जब आप Assistant Professor बनकर अपने जीवन को सफल बनाना चाहते हैं तो उसके लिए आपको कक्षा 12वीं में कड़ा परिश्रम करके बेहतर प्रदर्शन करना होगा ताकि ना केवल आप अच्छे अंको के साथ कॉलेज में दाखिला ले सकें बल्कि साथ ही साथ आपके बुनियादी ज्ञान का निर्माण भी हो सकें।

  1. कॉलेज में B.A और Assistant Professor के अनुरुप ही कोर्स का चयन करें

Assistant Professor बनने के अपने लक्ष्य पर आगे बढ़ते हुए अब जब आप कॉलेज में दाखिला ले रहे हैं तो आपको विशेष तौर पर अपने कोर्स का चयन M.A और Assistant Professor के अनुरुप ही करना होगा क्योंकि एक बाद कोर्स का चयन करने के बाद आप उसे बदल नहीं पायेगे।

उदाहरण के लिए यदि आप कॉलेज में History, B.A ( Hons ) का चयन करते है और अच्छे से पढ़ाई भी करते है लेकिन कुछ समय बाद आप किसी दूसरे विषय जैसे कि राजनीतिक विज्ञान या फिर हिंदी की ओर आकर्षित हो जाते है और हम हिंदी या फिर राजनीतिक विज्ञान में ही M.A करें और Assistant Professor की परीक्षा की तैयारी करें तो आप नहीं कर पायेगे क्योंकि जिस विषय या कोर्स का चयन आपने B.A में किया है उसी विषय में आपको M.A करना होगा और इसी प्रकार उसी विषय में आपको Assistant Professor की परीक्षा की तैयारी भी करनी होगी।

हम आशा करते है कि आप हमारी बात समझ गय होंगे कि कॉलेज में M.A और Assistant Professor के अनुरुप ही विषय या कोर्स का चयन करना कितना जरुरी है।

  1. B.A के बाद अब आपको M.A में दाखिला लेना होगा

यहां पर जैसा कि हमने आपको बताया कि जिस विषय या फिर कोर्स का चयन आप B.A मे करते है उसी कोर्स या विषय में आपको M.A में दाखिला लेना होगा।

उदाहरण के तौर पर यदि आप History, B.A ( Hons ) का चयन करते है तो आपको M.A में दाखिले के लिए अनिवार्य तौर पर History का ही चयन करना होगा और यदि आप किसी दूसरे विषय से M.A में दाखिला लेना चाहें तो ये आपके लिए अब असंभव हो जायेगा।

आपने जिस विषय या कोर्स में B.A किया है उसी कोर्स या विषय में आपको M.A करना होगा।

  1. B.A में बेहतर प्रदर्शन करें ताकि Assistant Professor (UGC NET ) हेतु योग्यता प्राप्त कर सकें

यहां पर आपको विशेष तौर पर समझना होगा कि M.A ना केवल आपको औपचारिकता के लिए पास करनी है बल्कि साथ ही साथ इसमें आपको Assistant Professor ( NET ) की योग्यता प्राप्त हेतु निर्धारित अंक प्रतिशत प्राप्त करना होगा।

उदाहरण के लिए यदि आप सामान्य श्रेणी ( General Category ) के विद्यार्थी है तो आपको Assistant Professor ( UGC NET ) की परीक्षा देने के लिए M.A में कम से कम 55 प्रतिशत अंको की जरुरत होगी और इसके बाद ही आप परीक्षा दे पायेगे और यदि M.A में आपको 55 प्रतिशत से कम अंक प्राप्त हुए हैं तो आप Assistant Professor ( UGC NET ) नहीं दे सकते है।

Assistant Professor ( UGC NET ) के लिए आपको M.A में बेहतर प्रदर्शन करके निर्धारित योग्यता को प्राप्त करना होगा।

  1. Assistant Professor ( UGC NET ) के लिए निर्धारित योग्यता की पूरी जानकारी पता करें

डिग्री कॉलेज में सहायक प्रोफेसर के लिए न्यूनतम योग्यता क्या है? इसके जबाव में हम आपको बताना चाहते है कि इससे पहले कि आप Assistant Professor ( UGC NET ) के लिए अपनी तैयारी शुरु करें आपके लिए जरुरी है कि आपको Assistant Professor ( UGC NET ) के लिए तय योग्यता की पूरी जानकारी प्राप्त करें जो कि इस प्रकार से हैं-

  • सबसे पहले आपको 12वीं कक्षा उत्तीर्ण करनी होगी,
  • इसके बाद आपको कम से कम 50 प्रतिशत अंको के साथ A की डिग्री प्राप्त करनी होगी,
  • इसके बाद आपको 2 साल की A की पढ़ाई को 55 प्रतिशत अंको के साथ पूरा करना होगा,
  • अब आप चाहें तो सीधे ही 2 सालो का D कोर्स कर सकते है या फिर आप सीधे Assistant Professor ( UGC NET ) के लिए तैयारी कर सकते है आदि।

उपरोक्त योग्यता के अनुसार ही आपको Assistant Professor ( UGC NET ) की तैयारी करनी होगी।

  1. अब आपको धीरज के साथ Assistant Professor ( UGC NET ) परीक्षा की तैयारी करनी होगी

Assistant Professor बनने के लक्ष्य का ये अन्तिम पड़ाव होता है जिसके लिए आपको UGC NET ( UGC National Eligibility Test ) की परीक्षा को पास करना होगा जिसके बाद आपको UGC NET असिसटेंट प्रोफेसर का सर्टिफिकेट प्राप्त हो जायेगा और किसी भी कॉलेज में असिसटेंट प्रोफेसर के तौर पर शिक्षण कार्य कर सकते है।

  1. Assistant Professor ( UGC NET ) क्रेक करने के टिप्स व ट्रिक्स

यहां पर हम आपको Assistant Professor ( UGC NET ) की परीक्षा पास करने के कुछ मौलिक टिप्स व ट्रिक्स के बारे में बताना चाहते है जैसे कि –

  • आपको मन लगाकर कड़ा परिश्रम करना होगा,
  • Assistant Professor ( UGC NET ) के लिए चयनित अपने विषय में गहन रुचि के साथ – साथ गहन ज्ञान होना चाहिए,
  • Assistant Professor ( UGC NET ) के लेटेस्ट पाठ्यक्रम के अनुसार ही किताबो को खरीदें,
  • Assistant Professor ( UGC NET ) के लिए कुल पेपर होते है पेपर 1 व पेपर 2 और इन पेपरो को पास करने के लिए प्रत्येक पेपर की तैयारी कम से कम 2 किताबो से करें क्योंकि एक किताब में कभी भी पूरी जानकारी नहीं होती है,
  • शुरुआती असफलताओं से हतोत्साहित ना हो बल्कि निरन्तर कोशिश करते रहें,
  • Assistant Professor ( UGC NET ) परीक्षा की तैयारी रट कर ना करें बल्कि स्मार्टनेस के साथ करें और
  • खुद पर भरोसा रखें क्योंकि जीत अन्त में आपकी ही होगी।

उपरोक्त सभी टिप्स व ट्रिक्स की मदद से आप Assistant Professor ( UGC NET ) के अपने लक्ष्य की तैयारी कर सकते है और ईमानदारी से कड़ा परिश्रम करते हुए लक्ष्य को प्राप्त करके Assistant Professor बन सकते है।

  1. Assistant Professor की सैलरी क्या होती है?

यदि आप Assistant Professor की सैलरी जानना चाहते है तो हम आपको बता दें कि एक बार जब आप Assistant Professor बन जाते है तो आपको शुरुआती दौर में 20,000 से लेकर 35,000 रुपय मासिक सैलरी प्राप्त होती है।

लेकिन जब आप इस क्षेत्र में अनुभव प्राप्त कर लेते है तो आप आसानी से 40,000 से लेकर 90,000 तक की सैलरी प्राप्त कर सकते है जो कि एक अच्छी – खासी सैलरी है और साथ ही साथ हम आपको बताते चलें कि Assistant Professor की वार्षिक सैलरी 5,88,122 रुपय के बीच होती है।

आप Assistant Professor की सैलरी को देखकर इस क्षेत्र की तरफ आकर्षित ना हो बल्कि अपने रुचि के अनुसार इस क्षेत्र में प्रवेश करके करियर बनायें तभी आप इस क्षेत्र से खुद को लाभान्वित कर पायेगे और इस क्षेत्र को भी लाभान्वित कर पायेगे।

  1. असिस्टेंट प्रोफेसर के लिए उम्र सीमा क्या है?

हम आपको बता दे कि यदि आप असिस्टेंट प्रोफेसर बनना चाहते है उसके लिए कोई आयु सीमा तय नहीं की गई है लेकिन यदि आप JRF ( Junior Research Fellowship ) करना चाहते है तो इसके लिए महिला अभ्यर्थी के लिए 45 साल या इससे कम व पुरुष अभ्यर्थी के लिए 35 साल या इससे कम होनी चाहिए।

  1. प्रोफेसर बनने के लिए नेट की जरूरत है या नहीं?

आपके इस सवाल का जबाव हम सीधे शब्दो में देना चाहते है कि Assistant Professor बनने के लिए आपके नेट की जरुरत हल हाल में पड़ेगी। यदि आपने Ph.D किया है तब भी और यदि आपने Ph.D नहीं किया है तब भी आपको Assistant Professor बनने के लिए नेट की जरुरत अनिवार्य तौर पर पड़ेगी।

उपरोक्त सभी बिंदुओं की मदद से हमने आपको विस्तार से बताया कि Assistant Professor Kaise Bane? ।। असिसटेंट प्रोफेसर कैसे बनें? ताकि आप भी आज से ही अपनी तैयारी शुरु कर सकें और अपने उज्जवल भविष्य का निर्माण कर सकें।

सारांश

Assistant Professor बनना हर विद्यार्थी का सपना होता है ना केवल सैलरी के लिहाज से बल्कि अपने इच्छा और मान – सम्मान के लिहाज से भी और इसीलिए हमने आपको अपने इस लेख में विस्तार से बताया कि Assistant Professor कैसे बने? और अन्य बिंदुओं की पूरी जानकारी प्रदान की ताकि आप Assistant Professor बनने के लिए अपनी तैयारी को शुरु कर सकें और Assistant Professor बनकर अपने जीवन को सफल व सुरक्षित बना सकें।

हम आशा करते है कि आपको हमारा ये लेख पसंद आया होगा जिसके लिए आप हमारे इस लेख को लाइक करेंगे शेयर करेंगे और साथ ही साथ अपने विचार व सुझाव कमेंट करके हमें बतायेगे।

Also Read:

Fastag क्या है कैसे काम करता है? और इसे कैसे बनवायें?

Free Fire Me Free Diamond Kaise Le?

Jio Phone से पैसे कैसे कमाए Top 10 तरीके

Facebook पर IPL लाइव कैसे देखे? (100% Working Trick)

Aadhar Card Update कैसे करे ? { Latest Update }

Leave a Comment