बच्चों को पढ़ाना होता है इसलिए जरूरी ( Children Study Tips )

Children Study Tips:

बच्चों को पढ़ाना होता है इसलिए जरूरी:

दोस्तों ये तो सभी जानते हैं हर माता-पिता को अपने बच्चों को पढ़ाना चाहिए जो अपने बच्चों को नहीं पढ़ाते हैं वहीं उनके सबसे बड़े दुश्मन है अनपढ़ इंसान कहीं भी सम्मान नहीं पता अर्थात उसे जीवन में बहुत सी कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है हमारे अनुसार बिना पढ़ा लिखा इंसान सदैव नुकसान ही उठाता है अर्थात उसके हित की बात कोई नहीं करता है।

Children Study Tips

बच्चों को अत्यधिक प्यार इसलिए नहीं देना चाहिए :

जो लोग अपने बच्चों को अत्यधिक प्यार देते हैं वह उन की पढ़ाई लिखाई पर ध्यान नहीं दे पाते कभी-कभी ऐसी स्थिति आ जाती है की मां बाप को अपने बच्चों से दूर रहना पड़ता है जो माता-पिता अपने बच्चों से ज्यादा प्यार करेंगे तो वह उनको अपने से दूर नहीं रख पाएंगे दोस्तों मैंने ऐसा इसलिए ही बोला है कि अपने बच्चों से उतना ही प्यार करें जितना उचित हो और मैनें आपको यह भी बताया है कि अपने बच्चों को अपने वश में रखें जिससे वे कोई भी गलत मार्ग पर जाने से पहले सौ बार सोचेंगे फिर कोई भी काम करने के लिए आगे बढ़ें।

कुछ ना कुछ सीखते रहना चाहिए:

दोस्तों हमें जीवन भर कुछ ना कुछ सीखते रहना चाहिए चाहे हम श्लोक ही क्यों ना सीखे लेकिन कुछ ना कुछ सीखते रहना जरूरी होता है यदि हम रोज एक श्लोक का एक चरण ही सीखते हैं तो उससे भी हमारे हृदय को संतोष मिलता है या इसी के समक्ष अगर हम प्रतिदिन एक अक्षर भी पढ़ते हैं या सीखते हैं तो उससे भी हमारा मनोबल बढ़ता है इसलिए हर व्यक्ति को चाहिए कि कुछ ना कुछ हमेशा सीखते रहना चाहिए।

मनुष्य इसलिए नष्ट हो जाता है:

यदि मनुष्य स्त्री के वियोग में आ जाता है तो उसका बिना संभव हो जाता है अगर मनुष्य अपने लोगों से आना 4 यानी अच्छा व्यवहार नहीं करेगा तो भी उसका विनाश होना संभव है ठीक इसी के विपरीत अगर मनुष्य कर्ज के बंधन में बंध जाता है तब भी उसे बहुत से कष्टों का सामना करना पड़ता है मनुष्य को चाहिए अपना काम लगन से करें ताकि उस पर कोई भी विपत्ति आने से पहले बा उसका साधन जुटा सके मनुष्य को स्वार्थी नहीं होना चाहिए

दोस्तों मेरे अनुसार तो अगर आप का राजा दुष्ट है तो आपको उसकी सेवा बिल्कुल नहीं करना चाहिए ठीक इसी के विपरीत अगर आपका राजा सेवा लायक है तो आप उसकी सेवा अवश्य करें और यदि आप अपनी प्रतिकूल सभा में ही बैठे ना कि अपने उत्तम गुणवत्ता वाले लोगों में अगर आप अपने प्रतिकूल सभा में बैठेंगे तब ही आपके हित की बात होगी अगर आपके अंदर यह सभी गुण हैं तो आप एक सफल व्यक्ति के रूप में आगे बढ़ेंगे।

स्त्री को दूसरे के घर कभी इसलिए ना भेजें:

अगर आपकी पत्नी का चरित्र अच्छा भी है तो भी आपको उसे दूसरे के घर ज्यादा नहीं भेजना चाहिए इसलिए की दूसरे के घर गई स्त्री नष्ट हो जाती है जिस तरह नदी नालों के किनारे लगे पेड़ पौधे नष्ट हो जाते हैं उसी तरह दूसरे के घर गई स्त्री भी नष्ट हो जाती है मनुष्य को चाहिए कि अपना काम वह स्वयं करें यही उसके लिए सर्वश्रेष्ठ होता है।

ये भी पढ़ें:

BSF Full Form | BSF का फुल फॉर्म क्या है?

JCB Full Form | JCB का फुल फॉर्म क्या है?

HIV Full Form | एच.आई.वी का फुल फॉर्म क्या है?

DM (डीएम) कैसे बने पूरी जानकारी हिंदी में

Free Fire में Double Diamond कैसे ले?

Leave a Comment