UPI Full Form | यूपीआई का फुल फॉर्म क्या है?

UPI क्या है? या फिर यूपीआई का मतलब क्या होता है? को समर्पित इस आर्टिकल में क्या आप भी बिजली बिल, पानी बिल, रुम रेंट, फोन रिचार्ज या फिर पैसे भेजने के लिए अलग – अलग दफ्तरों के चक्कर लगा – लगाकर परेशान और हताश हो गये है तो हम, आपकी इस हताशा को भी गौरवमयी आशा में बदल देंगे क्योंकि हम अपने इस आर्टिकल में अपने सभी पाठकों को विस्तार से UPI Full Form in Hindi में, पूरी जानकारी प्रदान करेंगे।

upi full form? पर केंद्रित इस आर्टिकल में हम अपने सभी पाठको व खासकर युवाओँ से पूछना चाहते है कि वे जानते है कि upi क्या है? या फिर यूपीआई का मतलब क्या होता है? यदि नहीं जानते है तो हम, आपको बता दें कि हम आधुनिकता की तकनीकी युग में जी रहे है जहां पर अनेको प्रकार के कार्यों को समय व धन की बचत के लिए ऑनलाइन किया जा रहा है और इसके परिणाम भी बेहद संतुष्टिदायक व संतोषजनक सिद्ध हुए है।

अन्त हम अपने इस आर्टिकल में अपने सभी पाठको व नौजवानों को विस्तार से UPI Full Form in Hindi के साथ ही साथ upi क्या है? यूपीआई का मतलब क्या होता है? की पूरी जानकारी प्रदान करेंगे ताकि हमारे सभी पाठक व युवा भी इस लेटेस्ट सिम्पल और सिक्योर तकनीक का प्रयोग करके लाभ प्राप्त कर सकें।

UPI Full Form क्या है?

UPI Full Form

आइए सबस पहले हम अपने सभी पाठको व युवाओं को विस्तार से कुछ बिंदुओं की मदद से बतायें कि UPI Full Form क्या है जो कि इस प्रकार से हैं-

  1. हिंदी में, UPI का Full Form होता है – यूनिफाइड पेमेंट इंटरफेस ⇒ एकीकृत भुगतान इंटरफ़ेस
  2. अंग्रेजी में, UPI Full Form होता है – Unified Payment Interface

उपरोक्त बिंदुओं की मदद से हमने आपको बताया कि हिंदी व अंग्रेजी दोनो ही भाषाओं में UPI Full Form क्या होता है ताकि आप सभी इसकी पूरी जानकारी प्राप्त करके ना केवल जानकर बन सकें बल्कि इसका भरपूर प्रयोग भी कर सकें।

UPI की पृष्ठभूमि क्या है?

वैसे तो UPI का चलन भारत में काफी लम्बे समय से चल रहा था लेकिन साल 2016 से लेकर 2017 के बीच में, UPI को ना केवल नई पहचान मिली बल्कि साथ ही साथ इसका प्रयोग भी बड़े पैमाने पर किया गया। आइए अब हम आप सभी को कुछ बिंदुओं की मदद से बतायें कि UPI की पृष्ठभूमि क्या है?

  1. साल 2016-17 के बीच भारतीय प्रधानमंत्री श्री. नरेन्द्र मोदी द्धारा भ्रष्टाचार को समाप्त करने के लिए क्रान्तिरकारी कदम उठाये हुए 500 से लेकर 1000 तक के सभी नोटों की नोटबंदी कर दी गई।
  2. सरकार द्धारा बड़े पैमाने पर लोगो को UPI की मदद से रुपयों का लेन – देन करने के लिए प्रोत्साहित किया गया।
  3. कैशलैस अर्थव्यवस्था अर्थात् नकदी रहित अर्थव्यवस्था के निर्माण के लिए UPI को प्राथमिकता व सर्वोच्चताप प्रदान की गई।
  4. UPI वो माध्यम है जिसकी मदद से ना केवल आप त्वरित गति से रुपयों का लेन – देन कर सकते है बल्कि साथ ही साथ सुरक्षित ढंग से UPI की मदद से अलग – अलग कार्यों जैसे कि – बिजली बिल, पानी बिल, रुम रेंट, फोन रिचार्ज व अन्य प्रकार के भुगतान को आसानी से चंद मिनटों में पूरा कर सकते है।

उपरोक्त बिंदुओँ की मदद से हमने आप सभी को विस्तार से UPI की पृष्ठभूमि के बारे में बताया ताकि आप सभी आसानी से इसका प्रयोग करके लाभ प्राप्त कर सकें।

UPI क्या है?

क्या आप जानते है कि, upi क्या है? या यूपीआई का मतलब क्या होता है? यदि नहीं जानते है तो हम, आपको बता दें कि UPI वो सिस्टम माध्यम या फिर प्रणाली है जिसकी मदद से हम सभी आसानी से बिना भाग – दौड़ के रुपयों का लेन – देन कर सकते है।

जैसा कि हमने आपको बताया कि UPI का पूर्ण रुप होता है – Unified Payment Interface जो कि एक ऐसा सिस्टम होता है जिसकी मदद से हम, डिजिटल तौर पर रुपयो का लेन – देन करते है अर्थात् हमें नकदी की जरुरत नहीं पड़ती है क्योंकि हम, Unified Payment Interface अर्थात् UPI की मदद से सीधे अपने बैंक खाते से रुपयो का भुगतान करते है और रुपयो की प्राप्ति भी सीधे अपने बैंक खाते में ही करते है।

अन्त, इस प्रकार सीधा बैंक से रुपयों का डिजिटल लेन – देन करने की पूरी प्रक्रिया को संभव बनाने वाली तकनीक को ही UPI कहते है।

UPI और NPCI का क्या संबंध है?

यदि हम आपसे पूछे कि UPI का क्या इतिहास है तो ये कहा जा सकता है कि NPCI वो संस्था है जिससे UPI का जन्म होता है क्योंकि UPI को शुरु करने के लिए सबसे पहली पहले National Payments Corporation Bank ही की गई थी ताकि रुपयो का डिजिटल लेन – देन किया जा सकें और भारत को कैशलेस इकोनॉमी बनाया जा सकें।

UPI का लाभ क्या है?

आइए अब हम अपने सभी पाठको व युवाओं को कुछ बिंदुओं की मदद से बतायें कि, UPI के कौन – कौन से लाभ है? जो कि इस प्रकार से हैं-

  1. UPI का सबसे बड़ा लाभ ये है कि UPI की मदद से एक कैशलेस अर्थव्यवस्था का निर्माण किया जा सकता है।
  2. UPI की मदद से आप देश के किसी भी कोने से देश के किसी भी बैंक में, त्वरित गति व सुरक्षा के साथ रुपयो का ट्रांसफर कर सकते है।
  3. UPI की मदद से हमने अपने सभी तरह के बिलो जैसे कि – बिजली बिल, पानी बिल, फोन रिचार्ज बिल और साथ ही साथ अन्य तमाम प्रकार के बिलों का भुगतान डिजिटल तरीके से सीधा अपने बैंक खातों से कर सकते है।
  4. UPI की मदद से हम, अपनी रेलवे टिकट, मूवी टिकट, फ्लाइट टिकट और अन्य प्रकार के टिकटों का भुगतान कर सकते हैं।
  5. UPI की मदद से हम, डिजिटल पेमेंट करके ना केवल भ्रष्टाचार को समाप्त कर सकते है बल्कि रुपयों की काला बाजारी को भी सख्ती से रोक सकते है।
  6. साथ ही साथ हम, UPI की मदद से अपने देश की अर्थव्यवस्था का पूरी तरह से कैशलेस बनाकर उसे सुरक्षित व स्थायी बना सकते है।

उपरोक्त बिंदुओं की मदद से हमने आपको बताया कि UPI से हमें किन किन लाभों की प्राप्ति होती है।

UPI के इस्तेमाल के लिए क्या – क्या होना चाहिए?

यदि आप भी UPI की मदद से रुपयो का लेन – देन करना चाहते है तो इसके लिए आपके पास कुछ जरुरी चीज़ें होनी चाहिए जैसे कि –

  1. UPI का इस्तेमाल करने के लिए अनिवार्य तौर पर आपको एक बैंक खाता होना चाहिए,
  2. आपके पास इंटरनेट वाला स्मार्ट फोन होना चाहिए और
  3. साथ ही साथ UPI का इस्तेमाल करने के लिए सबसे जरुरी है कि, आपका मोबाइल नंबर आपके बैंक खाते में, लिंक हो तभी आप UPI का इस्तेमाल कर सकते है आदि।

उपरोक्त चीज़ों की पूर्ति के बाद हमारे सभी पाठक व युवा आसानी से UPI का प्रयोग कर सकते है और इसका लाभ प्राप्त कर सकते हैं।

UPI की सुरक्षा प्रणाली कैसी है?

बहुत से लोग, UPI के डिजिटल होने की वजह से इसका इस्तेमाल करने के कतराते है जबकि ऐसा नहीं है क्योंकि UPI के तहत आपके रुपयो के लेन – देन की पूरी प्रक्रिया को सुरक्षित बनाने के लिए एक उन्नत सुरक्षा प्रणाली अपनाई गई है जो कि, इस प्रकार से हैं –

  1. UPI के तहत आप रुपयो का लेन – देन तभी कर पायेगे जब आपका मोबाइल नंबर आपके बैंक खाते से लिंक होगा जिससे आपके रुपयो के लेन – देन की तुरन्त सूचना दी जायेगी और
  2. UPI के तहत किसी भी तरह के रुपयो का लेन – देने करने से पहले आपको सुरक्षा के दृष्टिकोण से अपना UPI – पिन बनाना होता है और हर लेन – देन अर्थात् ट्रांजैक्शन्स करने से पहले आपको यही UPI – पिन दर्ज करना होता है जिसके बाद आप आसानी से UPI की मदद से रुपयो का लेन – देन कर पाते है आदि।

उपरोक्त बिंदुओं की मदद से हमने आप सभी को विस्तार से UPI की सुरक्षा प्रणाली के बारे में, बताया ताकि आप सभी नि-संकोच भाव से UPI का प्रयोग करके इसका लाभ प्राप्त कर सकें।

UPI Enabled बैंक कौन से है?

1.      State Bank of India2.      Kotak Mahindra Bank
3.      ICICI Bank4.      HDFC
5.      Andhra Bank6.      Axis Bank
7.      Bank of Maharashtra8.      Canara Bank
9.      Catholic Syrian Bank10.   DCB
11.   Federal Bank12.   Karnataka Bank KBL
13.   Punjab National Bank14.   South Indian Bank
15.   United Bank of India16.   UCO Bank
17.   Union Bank of India18.   Vijaya Bank
19.   OBC20.   TJSB
21.   IDBI Bank22.   RBL Bank
23.   Yes Bank24.   IDFC
25.   Standard Chartered Bank26.   Allahabad Bank
27.   HSBC28.   Bank of Baroda
29.   IndusInd

उपरोक्त सभी बैंको में, UPI Enabled की सुविधा प्राप्त होती है जिसकी मदद से आप आसानी से UPI का प्रयोग कर सकते हैं।

UPI का इस्तेमाल कैसे करें?

आप बेहद आसानी से UPI का इस्तेमाल कर सकते है जिसकी पूरी प्रक्रिया इस प्रकार से हैं –

  1. सबसे पहले हमारे सभी पाठको को Google Play Store पर जाना होगा,
  2. इसके बाद यहां पर आपको UPI Enabled App’s Like – Paytm, Phone Pe, Google Pe, Mobikwick और Free recharge में से किसी एक को डाउनलोड व इंस्टॉल करना होगा,
  3. इसके बाद आपको इस एप्प को अपने स्मार्टफोन में, ओपन करना होगा,
  4. यहां पर सबसे पहले आपको अपना रजिस्ट्रेशन करना होगा,
  5. इसके बाद आपको अपने बैंक खाते की जानकारी दर्ज करनी होगी अर्थात् अपने बैंक अकाउंट को लिंक करना होगा,
  6. इसके बाद आपको अपने बैंक खाते में लिंक मोबाइल नंबर को दर्ज करना होगा और
  7. अन्त में, आपको अपना UPI – पिन सेट करना होगा क्योंकि आपके द्धारा किये जाने वाले हर लेन – देन को सुरक्षित करने के लिए इसी UPI – पिन को, आपको पहले दर्ज करना होगा और इस UPI – पिन को गोपनीय रखना होगा आदि।

उपरोक्त बिंदुओँ की मदद से आप आसानी से UPI का प्रयोग कर सकते है और इसके बेहतरीन लाभो की प्राप्ति कर सकते हैं।

ये भी देखें:

GST Full Form

DTP Full Form

PPP Full Form

RCC Full Form

NCC Full Form

निष्कर्ष

UPI ना केवल आज के समय की मांग है बल्कि तकनीक का एक रुप है जिसका प्रयोग ना करने से हमें, ही नुकसान होगा और अनिवार्य तौर पर इसका प्रयोग करके हम, सुरक्षित तौर पर ना केवल रुपयों का लेन – देन कर पायेंगे बल्कि साथ ही साथ अपने देश की अर्थव्यवस्था को भी भ्रष्टाचार मुक्त, पारदर्शी व जबावदेही बना पायेंगे और इसी लक्ष्य से हमने अपने इस आर्टिकल में, आप सभी को विस्तार से UPI Full Form in Hindi की जानकारी अपने सभी पाठको व युवाओं को प्रदान की।

अतः हमने अपने इस आर्टिकल में आप सभी को विस्तार से UPI क्या है? अर्थात् यूपीआई का मतलब क्या होता है? की पूरी जानकारी प्रदान की ताकि आप अपने सभी प्रकार के रुपयों के लेन – देन के लिए UPI का प्रयोग करके पूरा – पूरा लाभ प्राप्त कर सकें और यही हमारा लक्ष्य है।

हमें, उम्मीद व आशा है कि, आपको हमारा ये आर्टिकल जरुर पसंद आया होगा जिसके लिए ना केवल आप हमारे इस आर्टिकल शेयर करेंगे बल्कि साथ ही साथ अपने विचार व सुझाव हमें, कमेंट करके भी बतायेंगे ताकि हम, इसी तरह के आर्टिकल आपके लिए लाते रहें।

Leave a Comment