Mutual Fund क्या है? और इसमें invest करने का तरीका

क्या आपको पता है कि Mutual Fund क्या है? इसका इस्तेमाल क्यों किया जाता है और Mutual Fund कैसे काम करता है. अगर आप नहीं जानते है तो आज की ये Post आपके बहुत काम आने वाली है. तो इसको आखिर तक जरुर पढ़े तभी आप समझ सकते है म्यूच्यूअल फण्ड क्या है और क्यों लोग इसमें अपना पैसा Invest करते है.

यदि बात करे की लोग म्यूच्यूअल फण्ड के बारे में क्या सोचते है तो हम आपको बता दे की बहुत से वक्ति इसके बारे में सोचते है. की यहाँ पर जो भी पैसा लगते है उनका पैसा बर्बाद होता है और बिना कुछ सोचे समझे अपने दिमाग में Negative Thoughts लेकर आ जाते है.

इसी कारण से हमने सोचा की आपको mutual Funds in Hindi के बारे में बताया जाए की आखिर ये होता क्या है. और कभी ना कभी आपके मन में भी ये बात तो जरुर आई होगी Mutual Fund kya hai in Hindi आखिर होता क्या है. इस Article को पढने के बाद आप समझ जाएगे म्यूच्यूअल फण्ड की सच्चाई क्या है.

ये हम इस लिए बोल रहे है क्यों की बहुत से लोगो को लगता है. की (Share Market /Stock Market) की तरह ही Mutual Fund को समझते है. हाँ ये बात सच है की म्यूच्यूअल फण्ड मार्किट का ही एक हिस्सा है पर दोनों में बहुत अंतर है.

अगर आप इसके फर्क को समझना कहते है तो आपको हमारा ये लेख म्यूच्यूअल फण्ड क्या होता है. इसको अच्छे से पढना होगा और हम ऐसा इसलिए क्यों बोल रहे है म्यूच्यूअल फण्ड सबसे अलग है.

Mutual Fund क्या है? – What is Mutual Fund in Hindi

Mutual Fund क्या है

आज ये टाइम आ गया है की हर इन्सान घर बैठे Online पैसा कमाना चाह्ता है और Mutual Funds भी आपको Online पैसा कमाने में मदद करता है. यदि आप भी म्यूच्यूअल फण्ड में Investment करने की सोच रहे हो तो सबसे पहले आपको Mutual Fund क्या है. इसके बारे में जानना बहुत जरुरी है जिससे होगा ये की आप कभी अगर Future में Mutual Fund in Hindi’ में पैसा लगते हो तो आपका पैसा बर्बाद ना हो सके. क्यों की आपको पता होगा की आपको कहाँ पैसा लगाना है और कहाँ नहीं इसीलिए आपको ये जान बहुत जरुरी है .

काई लोगो को Mutual Fund समझ में ही नहीं आता है क्यों की वो लोग सोचते है की ये एक तरह का ऑनलाइन जुआ है. जहाँ अपने पैसा लगाया तो आपका पैसा डूबने का खतरा रहता है पर जो लोग म्यूच्यूअल फण्ड के बारे में जाते है. की किस तरह इसमें पैसा लगाना है और कब कैसे लगाना है.

म्यूच्यूअल फण्ड किस तरीके से बनता है तो हम आपको बता दे की म्यूच्यूअल फण्ड तभी बनता है. जब बहुत सरे (Investors) निवेशको के जरिये जो पैसा लगाया जाता है. उस पैसे को किसी Company के Bond, Stock, Shear, खरीदने में लगाया जाता है. फिर उसके बाद जो भी पैसा Investors लगते है उस पैसे को फंड मेनेजर को सोप दिया जाता है. और ये Fund Manager की जिमेदारी है की वो लोगो को Profit  निकाल कर दे सके.

में आपको आसान सब्दो में समझाने की कोशिश करता हूँ जैसे Mutual Fund के नाम से ही पता चलता है. की यहाँ पर आपको पैसा निवेश करना होता है और ये इस लिए क्यों की म्यूच्यूअल फण्ड की नीव तब तक ही मजबूत है. जब तक लोग यहाँ पर अपना पैसा निवेश कर रहे है. 

जो पैसा लोगो द्वारा निवेश किया जाता है उस पैसे को Asset Management Company के जरिये संचालित किया जाता है. और जो भी इस कंपनी के Workers होते है वो बहुत ही Well Trained Workers होते है. जिनको अच्छे से पता होता है की पैसा कहाँ पर लगाना है और कहाँ पर नहीं लगाना है. और जो पैसा लोगो द्वारा निवेश किया जाता है उस पैसे को Asset Management Company के जरिये इन्वेस्ट किया जाता है. 

म्यूच्यूअल फण्ड कैसे काम करता है? How Mutual Fund Works

अब हम बात कर लेते है की आखिर Mutual Fund कैसे काम करता है यहाँ पर काफी बड़ी मात्र में लोग कंपनियों में पैसा लगते है. और देखा जाए तो Mutual Fund in Hindi में वही लोग अपना पैसा निवेश करते है. जिनको पता नहीं होता है की उनको अपना पैसा कहाँ और कैसे Invest करना है. वही लोग इसका ज्यादा तर इस्तेमाल करते है और जो Mutual Fund के Worker होते है. वो ग्राहक से पैसे को वहां Invest करते है जहाँ से Profit मिल सके जिससे ग्राहक और Mutual Fund दोनों को मुनाफा होता है.

और अब बात करे की म्यूच्यूअल फण्ड किस formet में ग्राहकों से पैसा लेता है. तो हम आपको बता दे की म्यूच्यूअल फण्ड इन हिंदी लोगो से 1% से 2% तक पैसा लेता है और उसके बाद जो भी पैसा बचता है. उसे ग्राहक को दे दिया जाता है इसी आधार पर म्यूच्यूअल फण्ड काम करता है.

मान लो की आपके पास 10,000 रूपए है और आप किसी Company में पैसा लगाना चाहते है. उस कंपनी की Market Share Value दस हजार है तो आपको सारे Share ही खरीदने पड़ेगे और अगर वो Company Profit कमाती है. तो उससे आपको भी फायदा होगा लेकिन अगर कंपनी को कोई फायदा नहीं होता है तो आपका सारा का सारा पैसा डूब जायेगा.

यदि आप अपने पैसे को Mutual Fund में निवेश करते है तो यहाँ पर आप अपने हिसाब से पैसा लगा सकते है. और एक नहीं अलग अलग कंपनियों में भी Invest कर सकते है जो भी पैसा आप लगते है Mutual Fund में उसके बाद उनका Risk होता है. की आपके पैसे को कहाँ और कैसे इन्वेस्ट करना है जिससे दोनों को फायदा हो सके.

जिससे ये होता है यदि अपने किसी एक Company में पैसा लगाया है. और उससे आपको नुकसान होता है तो अपने जो Other Company में पैसा लगाया है वहां से आप अपना पैसा Recover कर सकते है. और क्या आपको ये पता है की Mutual Fund में अगर आप Direct Investment से आपको कम पैसा मिलता है लेकिन इसमें जोखिम भी कम होता है.

जैसे ही Mutual Fund आपका पैसा निवेश कर देता है तो वो आपको MF Units देता है. जिसकी मदद से आप Redeem करके अपना पैसा जब चाहे निकल सकते है तो अब आप जान चुके है Mutual Fund कैसे काम करता है.

म्यूच्यूअल फण्ड के फायदे

Mutual Fund kya hai

अगर हम म्यूच्यूअल फण्ड के फायदे के बारे में बात करे तो हम आपको बता दे की इसके बहुत सारे फायदे है. और हम एक एक करके इसके सभी फायदों के बारे में बात करेगे तो चलिए बिना वक़्त गवाए जानते है Mutual Fund के फायदे क्या है

Minimum Funds Requirement

म्यूच्यूअल फण्ड का एक सबसे बड़ा Benefit यहाँ है की यहाँ पर आप कम से कम पैसा लगा (Invest) कर सकते है .60% लोगो की Monthly Income 10, 000 से भी कम होती है और एसे में वो लोग अपना पैसा कैसे बचा सकते है. और कैसे उस पैसे को किसी जगह पर Invest कर सकते है यदि आप कही भी पैसा लगाने की सोचते है. तो आपके पास एक बड़ा Amount होना बहुत जरुरी है तभी जाके आप कही अपना पैसा लगा सकते है.

पर यदि आप आपके पैसा कम पैसा है और आप उस पैसे को इन्वेस्ट करना कहते है. तो आप उस पैसे को Mutual Fund में लगा सकते है यहाँ पर आप 500/- रुपये हर महीने निवेश कर सकते है. और यहाँ पर एक बात बहुत अच्छी है की यहाँ गरीब हो या आमिर हर कोई पैसा लगा सकता है.

Diversification

अगर हम बात करे Diversification के बारे में तो इसमें फायदा म्यूच्यूअल फण्ड का ही होता है. क्युकी जब आप अपने पैसे को किसी एक Company पर निवेश करते है. तो आप पूरी तरीके से उस कंपनी पर ही निर्भर रहते है अगर उस कंपनी को फायदा होता है. तो आपको भी उसका फायदा होगा लेकिन अगर नुकसान होता है तो आपका पैसा डूब जाता है.

और यदि आप उसी पैसे को अलग अलग जगह पर निवेश करते है और आपको किसी एक जगह से नुकसान होता है. तो आप दूसरी जगह लगाये गए पैसे से अपना लगाया हुआ पैसा Recover कर सकते है और ठीक उसी तरह म्यूच्यूअल फण्ड भी वेसे ही काम करता है.

Professional Management

Professional Management के मेंवो लोग आते है जो म्यूच्यूअल फण्ड के अन्दर काम करते है. और जिनको Market और Company का अच्छा खासा ज्ञान होता है और उन लोगो को अच्छे से पता होता है. की आपका पैसा कहाँ लगाना है, जिससे आपको और उनको फायदा हो सके और ये काम आप नहीं कर सकते है क्युकी आपको उस चीज की knowledge नहीं होती है.

यदि आप Market में पैसा निवेश करने की सोच रहे हो तो आपके पास बाजार का ज्ञान होना बहुत जरुरी है. तभी जाके आप सही जगह पर पैसा लगा सकते है हम आपको बता दे की इसमें कोई आम व्यक्ति काम नहीं कर सकता है. क्युकी इसमें आपका Time और पैसा दोनों खर्च होता है आप आदमी के पास इतना समय इसलिए नहीं होता है. क्युकी उसको रोज अपने काम और व्यवसाय को सभालना पड़ता है.

और जब आप Mutual Fund में पैसा लगते है. तो आपके पैसे को Mutual Fund in Hindi के पेशेवर प्रबंधक द्वारा उस Company में लगाया जाता है. जहाँ से आपको और म्यूच्यूअल फण्ड को मुनाफा हो सके और आप बिना किसी परेशानी और Tension के अपना काम भी कर सकते है.

Easy Liquidity

लिक्विडिटी फण्ड वो चीज होती है जैसे आपको अचानक पैसो की जरुरत पड़ जाती है. तो एसे में आप Easy Liquidity का Use करके अपने पैसे को जब चाहे निकल सकते है. क्युकी ऐसा करने के लिए और कोई नहीं बल्कि म्यूच्यूअल फण्ड खुद आपको ये करने की Permission देता है.

और अगर आप दूसरी तरफ देखे तो अगर आप किसी और जगह पैसा निवेश करते है तो अपने मुताबिक पैसा नहीं निकाल सकते है. क्युकी हर जगह आपको ये सुविधा देखने को नहीं मिलती है इसीलिए म्यूच्यूअल फण्ड काफी बहेतर माना जाता है.

Time-Saving

आपको भी पता होगा की आज दोर में Time लोगो के लिए कितना ज्यादा जरुरी है. यदि आप म्यूच्यूअल फण्ड में अपना पैसा निवेश करते हो तो आपको अपनी जिन्दगी का कीमती समय बर्बाद करने की जरुरत नहीं है बस आप थोडा सा समय देकर भी पैसा कम सकते है.

हम किसी और Fild में पैसा इन्वेस्ट करते है जैसे स्टॉक मार्किट और शेयर मार्किट में तो आपको आपको एक एक पल की खबर रखनी पड़ती है. की कब शेयर ऊपर जा रहे है और कब निचे इसमें आपका पैसा और समय दोनों ही लगता है. और इन्ही सब चीजो से बचने के लिए लोग Mutual Fund का इस्तेमाल करते है.

म्यूच्यूअल फण्ड के प्रकार Types Of Mutual Fund

यदि हम बात करे की आखिर म्यूच्यूअल फण्ड कितने प्रकार के होते है. वेसे तो Mutual Fund काई प्रकार होते है पर हम आपको 3 तरीके बताने जा रहे है तो आप निचे देख सकते है.

Fixed Income Funds

  • डिपॉजिट और मनी मार्केट इंस्ट्रूमेंट्स जैसे ट्रेजरी बिल्स,सरकारी सिक्योरिटीज या बॉन्ड्स, कमर्शियल पेपर्स और डिबेंचर, Paper आदि Invest करते है.
  • कॉर्पोरेट डेट, डायनामिक बॉन्ड,लिक्विड फंड्स,शॉर्ट टर्म, फ्लोटिंग रेट, गिल्ट फंड्स जैसे कुछ Example होते है.
  • यह एक सुरक्षित Investment है Income के लिए बहुत अच्छा Sources होता है.

  Equity or Growth Funds

  • अगर बात करे तो ये मुख्या तोर पे Equity यानि जो Companies के Share Invest करते है.
  • इसका यह काम होता है की Money Growth और wealth creation यानि संपदा निर्माण करना होता है.
  • ये एक Long Term Investments के लिए बहुत अच्छा होता है साथ ही साथ ये आपको High Return करने की शमता रखता है.

हम आपको कुछ उदहारण से समझाने की कोशिश करते है.

  1. आम तोर पर उन Company में पैसा लगाते है जो बड़े Level पर काम करते है.
  2. Mid Cap में वो होते है जो ना ज्यादा हाई और ना ही ज्यादा निचे Company होती है.
  3. Small Cap वो होते है जो छोटे लेवल की कंपनी में निवेश करते है.
  4. Multi Cap वो Funds आते है जिसमे छोटी बड़ी और माध्यम वर्ग की सभी Company आती है.
  5. Sector Funds वो होते है जो उन कंपनियों में निवेश करते है. जो किसी एक काम से ऊपर Base है जैसे NEWS में सिर्फ न्यूज़ कंपनी ही पैसा लगाती है.
  6. Thematic Funds में एक नार्मल Subject पर Invest करते है

Hybrid Funds

Fixed और Equity ये दोनों ही Income में Invest करते  है इस तरीके से दोनों की Growth के साथ साथ Income में भी मुनाफा होता है.

इसके Example के लिए कंजर्वेटिव बैलेंस्ड फंड्स,एग्रेसिव बैलेंस्ड फंड्स,पेंशन प्लान्स, चाइल्ड Plane और माशिक Plane भी सामिल होते है.

म्यूच्यूअल फण्ड का रेगुलेटर कौन है?

क्या आपको पता है की म्यूच्यूअल फण्ड का Regulator कोन है. तो हम आपको बता दे की Mutual Fund को {Securities Exchange Board Of India} के जरिये रेगुलेट किया जाता है और इसकी वजह से Investment को Safe माना जाता है.

Mutual Fund के Charges क्या है?

जब आप किसी भी जगह Invest करते है तो उससे पहले आपको उसके Charges के बारे में पता होना बहुत ही जरुरी है. और इसी तरह Mutual Fund में भी Charges की Information होती है वैसे आपको इसको जाने की जरुरत नहीं है. पर अगर आप कर रहे है या करने की सोच रहे है तो आपको Mutual Fund charges के बारे में जानना जरुरी है.

जब आप Mutual Fund House की सेवाओ को Use करते हो तो आपसे Expenses Ratio Charge किया जाता है. और ये इसलिए लिया जाता है जो Mutual Fund में Fund Manager की Salary रूप में लिया जाता है. और जब हम Mutual Fund की NAV Expenses Ratio को कम करके निकली जाती है.

Mutual Fund Scheme के प्रकार?

यदि हम म्यूच्यूअल फण्ड स्कीम के प्रकार के बारे में बात करे तो इसमें 2 प्रकार की स्कीम होती है. Direct Plan और Regular Plan यदि आप Direct Plan में पैसा लगते हो तो इसमें आपको Expenses Ratio बहुत कम देखने को मिलता है.

अगर आप म्यूच्यूअल फण्ड में पैसा लगाने की सोच रहे है और आप किसी Agent की मदद लेते है म्यूच्यूअल फण्ड स्कीम में निवेश करते है. जो के एक Regular Plan कहा जाता है और Direct Plan की तुलना में ज्यादा Expenses Ratio देना होगा और जोकि [%] के हिसाब से साधारण लगता है मगर Long Term Investment के हिसाब से काफी बड़ा Difference दिखाई देता है.

Mutual Fund में Investment करने के तरीके

यदि आप Mutual Fund में इन्वेस्टमेंट करना चाहते है तो Investment करने के 2 तरीके होते है. सबसे पहला तरीका {Systematic Investment Plan} SIP इसमें आप एक Fix Money और Fix Time पर ही Mutual Fund में लगाया जाता है.

और बात करे इसके Time Period के बारे में तो ये 15 Days 1 Month 3 Month का भी हो सकता है. चलिए अब हम बात कर लेते है 2 तरीके के बारे में म्यूचुअल फंड इन्वेस्टमेंट का दूसरा तरीका Lump Sum होता है. इसमें Systematic Investment Plan की तरह आपको हर बार पैसा नहीं लगाना पड़ता है और आप एक साथ ही अपना Amount लगा सकते है.

Mutual Fund Start करने के लिए कितने पैसो की जरुरत है?

अब बात ये आती है की Mutual Fund Start करने के लिए आपको कितने पैसो की जरुरत होती है. तो हम आपको बता दे की Mutual Fund में आप मात्र 500 लगा कर Start कर सकते है जी हाँ ये बात बिलकुल सही है. सिर्फ 500 रूपए में आप अपना खाता खोल सकते है और वो भी बिना किसी की मदद लिए बस आपको कुछ बातो का ध्यान रखना है.

Net Asset Value क्या है?

(NAV) Net Asset Value in Hindi क्या है और इसको किस तरह से Calculator करते है अगर आप Mutual Fund में निवेश करने की सोच रहे है. और जो भी लोग यहाँ पैसा लगा रहे है उनको इस बारे में जानकारी होना बहुत जरुरी है जो लोग शेयर मार्किट और स्टॉक मार्किट में काम करते है. उनको हर एक पल की खबर रखनी पड़ती है की कब Market ऊपर जा रही है. और कब निचे यहाँ अपर आपको बहुत सावधानी से काम करना पड़ता है.

और इन्ही सब चीजो से बचने के लिए लोग म्यूचुअल फंड में निवेश करना पसंद करते है. यदि आप शेयर मार्किट और स्टॉक मार्किट में पैसा लगते है और अगर आपका पैसा डूब जाता है. तो कोई उसका जिम्मेदार नहीं होगा मगर जब आप Mutual Fund में पैसा लगते है उस पैसे की देख रेख Mutual Fund के अधिकारी करते है. की आपका पैसा कहाँ लगाना चाहिए जहाँ से आपको Profit हो सके और किसी भी Mutual Fund का NAV योजना की कुशलता को दर्शाता है.

जब कोई Mutual Fund की Scheme में अपना पैसा निवेश करता है. तब उसके द्वार दिए गए पैसे की वैल्यू के मुताबिक Unit Issue किया जाता है हर एक Unit Value को NAV कहा जाता है. जब कोई किसी भी Fund में पैसा लगता है उस फण्ड की यूनिट को Net Asset Value के आधार पर ख़रीदा जाता है.

म्यूचुअल फंड का इतिहास

क्या आपको पता है की भारत का सबसे पहेला म्यूचुअल फंड इन हिंदी कोन सा है. और कब आया था तो हम आपको बता दे की ये साल 1963 में आया था. और इस ही साल में भारत सरकार ने सार्वजानिक States में बैंक और Organization को म्यूचुअल फंड को लाने की Permission दे दी गई थी.

और साल 1992 में सेबी ने एक Law पास किया जिसमे ये था की जो भी म्यूचुअल फंड में पैसा निवेश करता है. तो उसके पैसे को पूरी तरह Safe रखा जा सके और Security Market Manage किया जा सके. यदि हम बात करे Mutual Fund Hindi के बारे में तो सन 1993 में नियम बनाया गया और इसी के बाद ही (Private Sector Companies) को म्यूचुअल फंड में आने की Permission दी गई थी और समय के हिसाब से इसकी Security में बदलाव होते रहते है.

Also Read:

इंस्टाग्राम पर लाइक कैसे बढ़ाये? ( 100% Latest Working Trick )

महिलाएं घर बैठे पैसे कैसे कमाए 15 धांसू तरीके 2021

Free Fire Facebook Account Google में Transfer कैसे करे?

Free Fire me DJ Alok Kaise Le? ( 100% Working Trick )

Corona Vaccine Registration कैसे करे? ( Full Process in Hindi )

2 thoughts on “Mutual Fund क्या है? और इसमें invest करने का तरीका”

Leave a Comment