ATM Full Form in Hindi | ATM का फुल फॉर्म क्या है ?

आज के समय में हम एटीएम से भलीभांति परिचित है। हम सभी जानते हैं कि आखिर ATM क्या होता है लेकिन ATM full form की जानकारी सबके पास नही है। इसलिए आज हम इससे जुडी सम्पुर्ण जानकारी आपको देंगे। ATM ने हम सभी की जिंदगी को काफी आसान कर दिया है। ATM होने के कारण ही हमें कभी भी पैसों की समस्या से जूझना नहीं पड़ता। हम कहीं पर भी एटीएम का इस्तेमाल करके अपने बैंक अकाउंट से पैसा सीधा अपने हाथ में ला सकते हैं।  कहीं पर भी पैसे निकालने हैं पैसे भेजने के लिए हम ATM का ही सहारा लेते हैं।

लेकिन दोस्तों, आज के समय में भी ऐसे कई सारे लोग होंगे जिन्हें ATM के बारे में जानकारी नहीं है । कई सारे लोगों को यह भी नहीं पता होता है कि आखिर ATM का फुल फॉर्म क्या है । यह न केवल एक जनरल नॉलेज का क्वेश्चन है बल्कि कई बार प्रतियोगी परीक्षाओं में भी पूछा जा चुका है। कई सारे लोगों को इस बात की जानकारी नहीं रहती कि आखिर एटीएम का फुल फॉर्म क्या होता है और इसी वजह से वह प्रतियोगी परीक्षाओं में मात खा जाते हैं । इसलिए दोस्तों यह पता होना कि एटीएम का फुल फॉर्म क्या होता है, बहुत जरूरी सवाल है। हमें सवाल का जवाब मालूम होना चाहिए।

कई सारे लोग अक्सर कहते हैं, कि एटीएम का फुल फॉर्म Any time Money होता है। लेकिन दोस्तों यह एटीएम का फुल फॉर्म बिल्कुल भी नहीं होता। अगर आपको भी इसका फुल फॉर्म नहीं पता है, तो कोई बात नहीं क्योंकि आज के इस आर्टिकल में हम आपको बताएंगे एटीएम का फुल फॉर्म और उससे जुड़ी कई महत्वपूर्ण बातें।

ATM क्या है ( What is ATM )

ATM Full Form

एटीएम से तो वैसे हम सभी भलीभांति परिचित हैं हम सभी जानते हैं कि एटीएम क्या होता है।

एटीएम एक तरह का इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस है इसका प्रयोग वित्तीय लेनदेन के लिए किया जाता है। यह बैंक द्वारा किए जाने वाले कामों को काफी सरल और आसान बना देता है।

हम कभी भी और कहीं भी पैसों का ट्रांसफर करवा सकते हैं एटीएम की सहायता से हम स्वयं ही पैसे निकाल सकते हैं हमें इस काम के लिए किसी भी प्रकार के बैंक कर्मचारी की जरूरत नहीं होती।

एटीएम द्वारा पैसे निकालने के लिए आपको किसी एक बैंक से जुड़े होना तथा किसी एक बैंक का उपभोक्ता होना जरूरी होता है फिर आपको बैंक द्वारा एक विशेष प्लास्टिक का कार्ड उपलब्ध कराया जाता है इसे हम एटीएम कार्ड कहते हैं यह कार्ड बहुत ही महत्वपूर्ण होता है।

 इस कार्ड के माध्यम से ही आप अपने बैंक अकाउंट तक पहुंचते हैं इस कार्ड की विशेषता होती है इस कार्ड के ऊपर लगी हुई magnetic strip । Magnetic strip में उपभोक्ता की जानकारी encoded होती है इस magnetic strip एक खास प्रकार का identification code होता है जो कि बैंक के कंप्यूटर पर medem द्वारा प्रेषित होता है।

यूजर को एटीएम द्वारा लेनदेन शुरू करने के लिए एटीएम के अंदर यह कार्ड डालना होता है इस कार्ड के माध्यम से उपभोक्ता आसानी से एटीएम संचालित कर सकता है।

ATM full form in Hindi (What is the full form of ATM)

एटीएम का फुल फॉर्म होता है- automated teller machine.

A – Automated

T – Teller

M – Machine

लेकिन दोस्तों, एटीएम का केवल एक ही फुल फॉर्म नहीं है इसके कई सारे फुल फॉर्म हो सकते हैं और इसे अलग-अलग लोग अलग-अलग फुल फॉर्म्स से जानते हैं।

ATM के अन्य फुल फॉर्म (Some more full forms of ATM)

ATM के कुछ अन्य फुल फॉर्म निम्नलिखित तरह के होते हैं –

  • Air traffic management ( aviation terminologies के क्षेत्र में )
  • Asynchronous transfer model ( IT sector के क्षेत्र में) यह एक telecommunication concept होता है । इसे ANSI और ITU द्वारा डिफाइन किया गया है।
  • Association of teachers of mathematics ( यह एक प्रकार का not for profit organisation है । जोकि यूके ( United Kingdom ) स्थित है।
  • Angkatan Tentera Malaysia ( जो कि मलेशियन Armed Forces है )
  • Altamira Airport ( यह एक प्रकार का एयरपोर्ट है जोकि Altamira ब्राजील ( Airport code ) में स्थित है।

विभिन्न देशों मे ATM का full form

दोस्तों, ATM ना केवल भारत में बल्कि दुनिया के लगभग सभी देशों में इस्तेमाल किया जाता है। इसे अलग-अलग देशों में अलग-अलग नाम से जाना जाता है। जैसे कि कनाडा में इससे एबीएम मशीन ( ABM MACHINE ) के नाम से जाना जाता है जिस का फुल फॉर्म होता है Automatic Bankers Machine. कई अन्य देशों में इसे cash point , cash machine , mini bank , और hole in the wall के नाम से भी जाना जाता है, तो चलिए आज हम जानते हैं कि आखिर भारत में एटीएम का फुल फॉर्म क्या होता है और एटीएम मशीन का क्या काम होता है।

What is the meaning of full form of ATM in Hindi ?

एटीएम का फुल फॉर्म होता है automatic tellor machine जिस का हिंदी में अर्थ होता है स्वसंचालित टेलर मशीन तो चलिए अब हम आपको ये बताते हैं कि आखिर एटीएम काम कैसे करता है।

ATM काम कैसे करता है (How does ATM works)

एटीएम एक जटिल रूप से काम करता है। लेकिन कोई भी व्यक्ति इसका आसानी से इस्तेमाल कर सकता है। इसे समझने की प्रक्रिया काफी जटिल होती है। जिसका अर्थ होता है कि यह एक complex process को follow करके काम करता है। एटीएम का इस्तेमाल में लाने के लिए और इससे अपना काम करने के लिए आपको सबसे पहले अपने एटीएम कार्ड को एटीएम मशीन के अंदर डालना होगा। आज के समय में एटीएम की दो प्रकार की मशीनें उपलब्ध है।

कुछ मशीनों में आपको कार्ड ड्राप ( drop ) करने के लिए कहा जा सकता है वहीं कुछ मशीनों में आपको कार्ड swap करने के लिए कहा जाता है । आपके ए टी एम कार्ड में बनी वह पट्टी ( magnetic strip ) द्वारा आपकी सभी जानकारी एटीएम मशीन पर दर्शाई जाती है। इसमें आपके बैंक अकाउंट का विवरण और अन्य जानकारी होती है।

जब भी आप किसी एटीएम मशीन में अपना कार्ड ड्रॉप या स्वैप करते हैं तो एटीएम मशीन से ऊपर आपको अपने खाते की जानकारी दिखने लगती है। इसके बाद आपको अपना पिन नंबर देना होता है। पिन नंबर सही होने पर एटीएम मशीन आपको आगे का ट्रांजैक्शन करने की अनुमति देती है।

ATM के प्रकार (Types of ATM )

1.) Online ATM – इस तरह का एटीएम बैंक के डेटाबेस से 24 घंटे जुड़ा रहता है। आप अपने खाते में जमा की गई राशि से अधिक राशि नहीं निकाल सकते।

2.) Offline ATM – इस तरह का एटीएम बैंक के डेटाबेस से जुड़ा नहीं होता । इस एटीएम की स्थिति में आप अपने खाते में पैसे ना होने पर भी एटीएम से पैसे निकाल सकते हैं । इसके बदले में बहन का पर कुछ जुर्माना लगा सकता है।

3.) On site ATM- बैंक परिसर के अंदर होने वाले एटीएम को onsite atm कहा जाता है।

4.) Off site ATM – बैंक परिसर के अंदर ही विभिन्न स्थानों पर होने वाले एटीएम को ऑफ साइट एटीएम कहा जाता है।

5.) White label ATM – इस तरह के एटीएम कार्ड को non banking financial institutions के लिए स्थापित किया जाता है।

6.) Yellow लेबल एटीएम – इस प्रकार के एटीएम कार्ड को e commerce के लिए उपयोग में लाया जाता है।

7.) Brown label ATM – इस तरह के एटीएम कार्ड में एक service provider की ownership होती है।

8.) Orange label ATM – यह एटीएम कार्ड share transaction के लिए प्रदान किए जाते हैं।

9.) Pink label ATM – यह एटीएम कार्ड महिलाओं के लिए प्रदान किया जाता है।

10.) Green label ATM – इन एटीएम कार्ड का इस्तेमाल कृषि लेनदेन के लिए किया जाता है।

Conclustion

तो दोस्तों, उम्मीद करते हैं कि आज का यह आर्टिकल ATM full form पढ़ने के बाद आप जान गए होंगे की एटीएम का फुल फॉर्म क्या होता है। आप एटीएम के बारे में और भी कई बातें जानते होंगे और साथ ही साथ यह भी जान गए होंगे कि एटीएम कार्ड क्या होता है। आशा करते हैं कि आपको आजकल यह आर्टिकल पसंद आया होगा।

Also Read:

Flyout क्या है कैसे सेटअप करें ? और इससे पैसे कैसे कमायें

Top 9 YouTube Trending Topics in Hindi

Blogging Se Paise Kaise Kamaye ( पूरी जानकारी हिंदी में )

Twitter Account Kaise Banaye ( Full Guide in Hindi )

Instagram Account Delete Kaise Kare

Leave a Comment